नई दिल्ली: क्रिकेट का एक और बेहतरीन साल खत्म होने को है. पूरे साल क्रिकेट के मैदान कई रोमांचक मुकाबले खेले गए. जहां कई नए रिकॉर्ड बने तो कई रिकॉर्ड टूटे. अकेले विराट कोहली ने साल खत्म होते होते शतकों का नया रिकॉर्ड बनाया तो एबी डीविलियर्स ने वापसी के बाद धमाकेदार पारी खेली. भारत ने जीत के कई रिकॉर्ड बनाए तो श्रीलंका ने हार के. दो नए देश टेस्ट क्रिकेट के स्थायी सदस्य बनाए गए तो महिला क्रिकेट ने पहली बार दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा. इन सभी मुकाबलों से होते हुए हम आपके लिए लेकर आए हैं साल 2017 के पांच बेहतरीन तस्वीर जिसे आप कभी भूल नहीं पाएंगे.

दो नए टेस्ट कंट्री –

2008 वो आखिरी साल था जब आईसीसी ने बांग्लादेश को टेस्ट प्लेइंग नेशन का दर्जा दिया था. इसके बाद लगभग 10 साल लग गए टेस्ट कंट्री की संख्या को बढ़ने में. एक तरफ जहां आयरलैंड लंबे समय से क्रिकेट खेल रहा था तो वहीं पिछले तीन-चार सालों से अफगानिस्तान ने अपने खेल से सभी को हैरान किया. अंत में आईसीसी ने अपनी सालाना बैठक में आयरलैंड और अफगानिस्तान को टेस्ट टीम का दर्जा दे दिया. हालाकि दोनों ही टीम को टेस्ट दर्जा मिलने के बाद अपने पहले टेस्ट का इंतजार है. जहां आयरलैंड 11 मई 2018 को पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलेगी तो वहीं अफगानिस्तान 2018 के आखिरी महीने में भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलने मैदान पर उतरेगी. इन दो देशों के टेस्ट नेशन बनने के बाद अब टेस्ट टीमों की संख्या 12 हो गई है.

भारत-पाक फाइनल, चैंपियंस ट्रॉफी इंग्लैंड

लंबे समय के बाद भारत और पाक की टीम एक बार फिर आमने-सामने थी वो भी सीधे आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में. एक तरफ जहां डिफेंडिंग चैंपियन भारत थी तो दूसरी तरफ नए तरीके से टीम बनकर खड़ी हो रही पाकिस्तान की टीम थी. आईसीसी मुकाबलों में पाक के खिलाफ भारत का पलड़ा हमेशा से भारी रहा है. इस मुकाबले से पहले भी भारत को चैंपियन बताया जा रहा था, लेकिन एक तरफ जहां जसप्रीत बुमराह के एक नो बॉल ने पाकिस्तान को वापसी को मौका दे दिया वहीं दूसरी पारी में मोहम्मद आमिर के ड्रीम स्पेल ने भारत की उम्मीदों को चकनाचूर कर दिया. पाकिस्तान क्रिकेट के लिए ये जीत बेहद खास रही और इसके बाद पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के वापसी के रास्ते खोल दिए.

पाकिस्तान में क्रिकेट की वापसी

एक तरफ पाकिस्तान चैंपियंस ट्रॉफी की चैंपियन बनी लेकिन उनके घर में ही जश्न का माहौल नहीं था कारण बस एक पिछले 8 साल से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का न होना. पाकिस्तान की लंबी कोशिश और आईसीसी के पहल के बाद पाकिस्तान में 8 साल बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हुई. पाकिस्तान में विश्व के कई बड़े खिलाड़ी वर्ल्ड इलेवन बन कर पाकिस्तान के लाहौर में तीन मैचों की टी 20 सीरीज खेलने पहुंचे. सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के साथ पाकिस्तान के क्रिकेट फैन्स ने अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को मैदान पर देखा. पाकिस्तान के लिए सीरीज जीत के साथ खुशी का ये पल आने वाले कई सालों तक ताजा रहेगी.

बांग्लादेश की ऐतिहासिक जीत

पिछले कुछ सालों में बांग्लादेश ने अपने घरेलू मैदान पर काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया है. कई दिग्गज टीमों को उसने घर में परेशान किया, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बाद उसने वो कर दिखाया जिसकी उम्मीद किसी को नहीं थी. बांग्लादेश ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट मैच में हराया. स्पिन लेती पिच पर ऑस्ट्रेलिया कोशिश भरसक की लेकिन हार से खुद को नहीं बचा पाई. हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज 1-1 से बचा लिया जीत स्वाभाविक थी लेकिन उसकी ये हार ने वाले कई सालों तक दोनों ही देश के क्रिकेट प्रेमियों को याद रहेगी.

महिला विश्व कप

ऐसा नहीं था कि महिला विश्व कप का आयोजन पहली बार किया गया हो. 1973 से महिला विश्व कप का आयोजन किया जा रहा है लेकिन 2017 का विश्व कप पूरे क्रिकेट जगत में खास जगह बना गया. भारत की टीम एक बार फिर फाइनल में पहुंची हालांकि जीत के करीब पहुंचकर भी टीम का विश्व कप जीतने का सपना पूरा नहीं हो पाया लेकिन दर्शकों ने इस मुकाबले को हाथों-हाथ लिया. मिताली राज के रिकॉर्ड रन के बाद हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंदाना ने इंटरनेट पर खलबली मचा दी. पहली बार देखा गया कि महिला क्रिकेटरों ने इंटरनेट पर टॉप सर्च में जगह बनाई. इस विश्व कप ने भारत में महिला क्रिकेट को नया सम्मान दिया. यहीं से महिला आईपीएल की भी बात उठने लगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *